Monday, March 9, 2015

कुचक्र तोड़ रही हूँ हर रोज

कुचक्र तोड़ रही हूँ हर रोज
समाज तुझमे मर रही हूँ हर रोज.
नारी हूँ , पथगामिनी हूँ
जीवन तेरी ही अर्धांगिनी हूँ
फिर भी कागज़ों में सिमट रही हूँ हर रोज.
हर मुख पर सिसक रही हूँ हर रोज
धारित्री हूँ , वरदायिनी हूँ
माँ तेरी ममतामयी कहानी हूँ
फिर भी हर आस में जी रही हूँ हर रोज
प्रेम तेरे दामन में नफरत सह रही हूँ हर रोज
                                                                ...वी. माया

1 comment:

  1. Karanayil madom is one of the oldest Vishnumaya Kuttichathan Maha manthrikam temples in Kerala. Located in the beautiful village of Ettuamana, Karanayil Madom is known for its powerful Vishnmaya deity and takes pride in the specialty of rituals conducted here to solve the problems affecting your mind and body.

    ReplyDelete